What Is Crawling In SEO in Hindi

What Is Crawling In SEO in Hindi? रैंकिंग का आसान तरीका (2020)

What is crawling in SEO in Hindi के बारे में जानेंगे?

Crawling एक process है जो website में webpages को ढूंढता है और उनको search engine के पास भेजता है. Search engines जैसे Google इनको अपने database में store करके रखते हैं. इस process को करने के लिए एक special software की जरूरत होती है जिसको हम bot या spider कहते हैं.

यह तो रही छोटी सी बात लेकिन इसके पीछे बहुत लंबा समय और process लगता है. हर search engine के पास अपना एक bot होता है जिसको इस तरह से पढ़ाया जाता है कि वह website के सभी pages को search कर पाए. आगे इसी पर अपनी चर्चा जारी रखें.

What is Crawling In SEO In Hindi

Crawling के बारे में अधिक जाने से पहले हम लोग देखते हैं web spider या bot क्या होता है.

What Is Web Spider or Bot

अपने अपने वेबसाइट पर क्या content डाला है यह search engine को कैसे मालूम चलेगा? आपकी वेबसाइट इस टॉपिक पर है, इसमें किस किस चीज के बारे में जानकारी दी है? यह सब जानने के लिए सर्च इंजन को कुछ करना होगा.

इसका एक उपाय यह है कि कोई इंसान सारे website को ढूंढता रहे और उनको सर्च इंजन में डालता रहे.

आज की दुनिया में 2 खरब से ज्यादा website हैं. तो यह इंसानी हाथों के द्वारा करना संभव नहीं है.

इसी कारण से search engine ने स्वयं का software बना लिया है जो सभी वेबसाइट पर जाता रहता है. इस software को bot या web spider कहते हैं

कुछ प्रसिद्ध web spider के नाम:-

  1. Google – Google Bot
  2. Yahoo – Slurp Bot
  3. Bing – Bing Bot
  4. DuckDuckGo – DuckDuckBot
  5. Baidu – BaiduSpider

How Crawling Works – Crawling कैसे काम करता है?

Online दुनिया एक मकड़ी के जाले की तरह है. इसमें एक वेबसाइट कोई ना कोई तरह से दूसरे वेबसाइट से जुड़ा है. ऐसे कर करके सारी दुनिया की वेबसाइट बनी है. आपके वेबसाइट का हर एक पेज दूसरे से link रहता है.

जब web crawlers आपके वेबसाइट पर आते हैं तब वह आपके प्रत्येक webpages पर जाते हैं. वहां से वह सारे content, images और बाकी टेक्निकल चीजें search engine को भेजते हैं. इसके बाद search engine इन सभी जानकारी को अपने server में store करके रखता है.

जैसे ही कोई व्यक्ति search engine पर जाकर कुछ ढूंढता है तो आपकी वेबसाइट show करती है. इस तरह से crawling अपना काम करता है.

Request Search Engine To Crawl

अगर आप कोई नई वेबसाइट बना रहे हैं तब सर्च इंजन को आपके वेबसाइट के बारे में कैसे मालूम चलेगा?

इसका एक आसान सा उत्तर है कि आप search engine को अपनी वेबसाइट crawl करने के लिए बोले. प्रत्येक वेबसाइट में यह feature होता है कि आप bot को बुला सकते हैं. इसके लिए आपको अपनी वेबसाइट search engine पर submit करनी होती है.

क्या SEO और Crawling में कोई संबंध होता है?

जी हां SEO और Crawling का बहुत गहरा संबंध है.

अगर search engine bots को crawling करने में कोई कठिनाई आएगी तो यह SEO के लिए एक अच्छा नहीं रहता है.

Web spider जब आपके वेबसाइट को crawl करता है तब वह आपके blogpost पर हर एक चीज को देखता है. जैसे heading, h2, h3, internal link, external link आदि. इसके माध्यम से वह यह समझने की कोशिश करता है कि आप किसकी keyword को टारगेट कर रहे हैं. अच्छा SEO किया है तो crawler को pages ढूंढने में कठिनाई कम होती है.

SEO में एक Crawl Budget term है जिसका मतलब होता है की web crawler या spider कितने समय में आपके वेबसाइट को crawl कर लेता है. अगर यह समय ज्यादा रहेगा तो search engine को एक negative impact देता है.

आप अपना crawl budget कम करके SEO में अच्छी ranking ला सकते हैं.

Robot.txt का महत्व

वेबसाइट बनाते समय हम लोग यह चाहेंगे कि सर्च इंजन हमारे सारे web pages को crawl ना करें. उदाहरण – Admin Page, Testing page, आदि.

ऐसे pages को crawl करने से आपकी ranking भी खराब हो सकती है. साथ में इसमें hacking के भी chances बढ़ सकते हैं.
Seach engine को रोकने के लिए आप robot.txt file बना सकते हैं.

सारांश (Summary)

मैं आशा करता हूं कि आपको crawling के बारे में जानकारी मिल गई होगी. आप अपनी वेबसाइट को crawling करने के लिए सही कदम उठा सकते हैं.

अब आपकी बारी (Your Turn Now)

अगर आपको कोई समस्या या doubt हो तो आप मुझे नीचे comment box में लिख सकते हैं.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *